पुलिस ने पीएसीएल के डायरेक्टर सुब्रतो भ्रष्टाचार्य व सुखदेव सिंह को लाने के बाद सोमवार को न्यायालय में किया पेश

जयपुर, राजस्थान/दीपक सैनीःप्रोडेक्शन वारंट के तहत पुलिस ने पीएसीएल के डायरेक्टर सुब्रतो भ्रष्टाचार्य व सुखदेव सिंह को लाने के बाद सोमवार को न्यायालय में पेश किया। जहां न्यायालय ने दोनो पीएसीएल डायरेक्टरो को एक दिन के पीसी रिमाण्ड पर चैामू पुलिस को सौप दिया। वहीं आज मंगलवार को आल इनवेस्टर सेफटी ओरगेनाइजेशन राजस्थान कमेटी के सचिव विमल कुमार यादव के नेतृत्व में सैकडो पीएसीएल के ऐजेन्टो व ग्राहको ने जलदाय विभाग से थाना मोड तक नारेबाजी करते हुए रैली निकाली। जिसके बाद रैली थाने के सामने पहूंची और थाने के सामने नारेबाजी करते हुए विरोध जताया। इसके बाद सैकडो पीएसीएल के ऐजेन्टो व ग्राहको ने तहसील पहूंचकर उपखण्ड अधिकारी को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपा। ग्राहको का कहना था कि चौमू में पीएसील की बांच थी। जिसमें यहां दो लाख ग्राहक जूडे हुए थे। यहां करीब तीन सौ करोड रूपये का भुगतान ग्राहको को पीएसीएल कम्पनी ने नहीं किया है। वहीं जमा पूंजी नहीं मिलने से ऐजेन्टो व ग्राहको को अपने परिवार को पालन पोषण करेन में असमर्थ हो गये है। ग्राहको का कहना है कि वो पूरी तरह बेबस, लाचार हो गये है। हालात ये है कि वे आत्मदाह करने तक कर सकते है। भारत वर्ष ग्राहको की जमा पूंजी की कुल देनदारी सीबीआई, एसइबीआई, एसएटी एवं केन्द्रिय सरकार की अन्य ऐजिंसीयो द्बारा पीएसीएल कम्पनी का 49100 करोड रूपये ग्राहको के बकाया बताया गया है। कम्पनी के मुख्य मालिक नीर्मल सिंह बेंगू है। चौमंू में पीएसीएल कार्यालय एक साल पूर्व बंद हो चूका है। यहां के ग्राहको ने 100 रूपये से लेकर लाखो रूपये तक पीएसीएल कम्पनी में पैसा जमा करवाया था। वहीं आल इनवेस्टर सेफटी ओरगेनाइजेशन राजस्थान कमेटी के सचिव विमल कुमार यादव ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए उपखण्ड अधिकारी को कहा कि पुलिस थानाधिकारी आरोपियो के साथ सख्ती से पेश नही आ रही है। बल्कि उनको अच्छी प्रोटेक्शन दी जा रही है। जो गलत है।

Share This Post

Post Comment