भारतीय उद्योगपति को काले धन के शोधन के आरोप में पकड़ा गया

गोलाघाट, असम/नगरसंवाददाताः पिछले कुछ सालों में बड़े-बड़े करप्शन स्कैंडल्स की इतनी खबरें हमने सुनी हैं कि अब छोटी-मोटी ख़बरों का हम पर असर ही नहीं होता है। आप विश्वास नहीं करेंगे, लेकिन अगर सारे स्कैम्स की रकम का टोटल करें तो इतने ‘ज़ीरो’ लगाने होंगे कि दिमाग का दही हो जाएगा। सबसे हैरत की बात ये है कि प्रशानिक अफसरों से लेकर बड़े-बड़े राजनेता इन स्कैंडल्स में लिप्त हैं। वो कहते हैं न ‘हमाम में सब नंगे हैं’। और दुःख तो इस बात का होता है कि ये हमारा, जनता का पैसा है जो ये मौकापरस्त लोग अपनी तिजोरियों में जमा कर लेते हैं। तो आज हम आपको बताते हैं कुछ ऐसे करप्शन स्कैंडल्स के बारे में जिसकी वजह से भारत का नाम बार-बार खराब हुआ। काले धन का स्कैम तब सामने आया जब एक भारतीय उद्योगपति को काले धन के शोधन के आरोप में पकड़ा गया जिसकी कीमत करीब 39,120 करोड़ रुपए थी। इसके बाद सरकार को समझ आया कि काले धन की समस्या बहुत बड़ी है। कई उद्योगपति, सरकारी अफसर, राजनेताओं ने अपना काला धन स्विस बैंक में छुपा रखा है जिसे अब भारतीय सरकार वापस लाने की कोशिश कर रही है।

Share This Post

Post Comment