कर्ज के बोझ से दबे किसान ने लगाई फांसी

महासमुंद छत्तीसगढ़/नगर संवाददाताः सूखे से फसल चैपट होने से तथा कर्जे में दबे होने के कारण और उस पर परिवार के आठ सदस्यों की जिम्मेदारी की चिंता से एक किसान खुसरूपाली निवासी पुराणिक ठाकुर (36) ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों ने पुलिस को बताया कि सरकारी बैंक से 2009 में 12 हजार का लोन लिया था। यह ब्याज सहित 17 हजार हो गया। कुछ कर्ज सूदखोरों से भी लिया था। इसी बोज के चलते उसने आत्महत्या की।

Share This Post

Post Comment